क्या Suzlon जायेगा 460 रुपए पार ? जानें एक्सपर्ट्स का क्या है कहना


Will Suzlon cross Rs 460? शेयर बाजार में हाल ही में हुई गिरावट के बावजूद, सुजलॉन एनर्जी का शेयर आज बड़ी तेजी के साथ बंद हुआ है। जब दूसरे बड़े शेयरों में गिरावट देखी जा रही है, वहीं सुजलॉन एनर्जी का शेयर एनएसई पर 4% से ज्यादा की तेजी के साथ बंद हुआ है। इससे एक सवाल उठता है कि क्या सुजलॉन एनर्जी का शेयर अपने 460 रुपये के ऑल टाइम हाई को छू सकता है।

आज, एचडीएफसी बैंक का शेयर 4% और रिलायंस का शेयर 2% से ज्यादा की गिरावट के साथ बंद हुआ है। इसके बर contrary, सुजलॉन एनर्जी का शेयर तेजी के साथ 24.85 रुपये के स्तर पर बंद हुआ है, जिसमें आज 1.10 रुपये की तेजी दर्ज की गई है। शेयर में बीच में एक बार अपर सर्किट भी लगा था, जो आज 25.95 रुपये के स्तर पर था।


WhatsApp चैनल ज्वाइन करें


Join Now

अनुसंधान के अनुसार, सुजलॉन एनर्जी का शेयर विभिन्न कारणों से मुद्रित हो रहा है, जिससे निवेशकों को आशा है कि इसमें और भी तेजी देखने को मिल सकती है। हालांकि, शेयर बाजार में हमेशा जोखिम रहता है, और निवेश से पहले विशेषज्ञ सलाह लेना हमेशा उत्तम होता है।

सुजलॉन एनर्जी के शेयर में बढ़त: आज की ट्रेंड और ऑल टाइम हाई का जायजा

आज, एनएसई पर सुजलॉन एनर्जी के शेयर ने अपने निचले स्तर को 24.50 रुपये पर बनाया और उच्चतम स्तर को 25.95 रुपये पर पहुंचाया है। इस बीच, एक साल के हाई और लो के स्तर हैं जो क्रमशः 27.05 रुपये और 6.60 रुपये हैं। आज एनएसई पर सुजलॉन एनर्जी के 166,418,138 शेयरों की ट्रेडिंग हुई है।

जब हम ऑल टाइम हाई की बात करते हैं, तो सुजलॉन एनर्जी के शेयर ने जनवरी 2008 में 460.00 रुपये का आखिरी स्तर देखा था। साथ ही, अक्टूबर 2007 में इसने अपने ऑल टाइम हाई क्लोजिंग की भी रिकॉर्ड बनाई थी जो 394.73 रुपये था।

शेयर बाजार में एक्टिव होने वाले इस शेयर की ट्रेंड और आज की गतिविधियों के प्रति निवेशकों की रुचि बनी रहेगी। आने वाले समय में इस शेयर की चालकी को देखते हुए निवेशकों को सतर्क रहना होगा, क्योंकि ऑल टाइम हाई को छूने का संकेत हो सकता है।

सुजलॉन एनर्जी: ऋणमुक्तता और म्यूचुअल फंड कंपनियों की बढ़ती रुचि

यह रिकॉर्ड सुजलॉन एनर्जी के लिए एक महत्वपूर्ण मोमेंट है, क्योंकि यह कंपनी ने लगभग 15 साल पहले एक ऑल टाइम हाई को छूने का रिकॉर्ड बनाया था। उस समय, सुजलॉन एनर्जी पूरी तरह से कर्ज मुक्त थी, और इसी वक्त यह स्थिति पुनः बन गई है। कंपनी हाल ही में पूरी तरह से कर्ज मुक्त हो गई है।

इस बदलाव के साथ ही, म्यूचुअल फंड कंपनियां भी इस शेयर में बढ़ती रुचि दिखा रही हैं। अगस्त 2023 में ही, म्यूचुअल फंड कंपनियों ने सुजलॉन एनर्जी के करीब 50 करोड़ शेयर खरीदे हैं, जिससे उनका निवेश 357% तक बढ़ा है।

इस निवेश के बाद, म्यूचुअल फंड कंपनियों के पास अब सुजलॉन एनर्जी के कुल 64.71 करोड़ शेयर हो गए हैं। इस संकेत से साफ होता है कि बाजार में सुजलॉन एनर्जी के प्रति बढ़ती आस्था और इसके ऋणमुक्त स्थिति ने निवेशकों को इसमें विश्वास जताया है।

Disclaimer: A1Factor.Com पोस्ट के माध्यम से लोगों में फाइनेंशियल एजुकेशन प्रोवाइड कराता है। म्‍यूचुअल फंड और शेयर मार्केट निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है। हम सब SEBI से पंजीकृत वित्तीय सलाहकार नहीं हैं। आप अपने पैसे को निवेश करने के लिए स्वतंत्र है। कृपया अपनी समझदारी और सूझ बूझ के साथ ही निवेश करें। निवेश करने से पहले पंजीकृत एक्सपर्ट्स की राय जरूर लें।



Source link

Leave a Comment