सरकार के इस खबर बाद रेलवे शेयर में दिखीं बूम ! भाव जायेगा ₹200 पार » A1 Factor


IRFC New Target update: भारतीय रेलवे वित्त निगम (IRFC) के शेयर की कीमत में हलचल के बारे में चर्चा हो रही है, और इसमें एक बेहद रोमांचक कहानी छिपी है। पिछले सप्ताह, जब शेयर की कीमत 153.70 रुपये पर बंद हुई, तो यह एक पांच प्रतिशत की गिरावट का सामना करना पड़ा। इससे पहले, 23 जनवरी 2024 को शेयर ने अपनी शानदार प्रदर्शन की बात की थी, जब वह 192.80 रुपये के स्तर पर पहुंचा था, इससे साफ है कि IRFC का सफर उत्साहजनक है।


WhatsApp चैनल ज्वाइन करें


Join Now

इस दिशा में, 28 मार्च 2023 को IRFC का स्तर 25.45 रुपये पर पहुंच गया था, जो कम समय में एक अद्भुत उतार-चढ़ाव का परिचय देता है। इस अवधि के दौरान, निवेशकों को अच्छे रिटर्न की उम्मीद है, जिसका प्रमुख कारण है IRFC की सकारात्मक प्रगति। इससे पता चलता है कि IRFC के शेयर मार्केट में एक उच्च वाणिज्यिक निवेश के रूप में अपनी अहमियत बना चुका है।

इस तेजी से बढ़ते शेयर की विशेषता में एक दिलचस्प बात यह है कि निवेशकों को इसमें 400 फीसदी से अधिक का रिटर्न मिला है। यह वास्तव में उन्हें समृद्धि की ओर अग्रसर करता है, जिससे उनकी निवेशक भावनाओं में विश्वास और आत्मविश्वास का विकास होता है। इस बढ़ती लोकप्रियता के साथ, IRFC शेयर बाजार में निरंतर महत्वपूर्ण रहा है और आगे भी निवेशकों के लिए एक आकर्षक विकल्प बना रहेगा।

IRFC शेयर की कीमत: एक साल में रेलवे से जुड़ा उत्तम निवेश

भारतीय रेलवे फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IRFC) के शेयरों की कीमत में एक व्यापक बदलाव की चर्चा हो रही है, जिसने पिछले एक साल में निवेशकों को बेहतरीन मल्टीबैगर रिटर्न प्रदान किया है। जनवरी 2024 में, IRFC के शेयर ने ₹190 प्रति शेयर के स्तर को पार कर दिखाया, जो उत्कृष्ट निवेश के संकेत के रूप में साबित हुआ।

हालांकि, हाल के समय में शेयर के मूल्य में कुछ कमी दर्शित हो रही है, जो कि बिकवाली की ओर इशारा करती है। इसके बावजूद, विशेषज्ञों की बुलिश दर्शाती है कि IRFC शेयर में अभी भी उच्च गतिशीलता की संभावना है। निवेशकों को इस निवेश के पीछे दिग्गज लक्ष्य और दिशा दर्शित करने वाले तथ्य का ध्यान देने की आवश्यकता है।

इसके अलावा, IRFC ने हाल ही में दिसंबर तिमाही के नतीजे जारी किए हैं, जो कंपनी की मजबूती और विश्वसनीयता को और भी बढ़ावा देते हैं। इसके साथ ही, निवेशकों को इस उत्कृष्ट निवेश के लिए आत्मविश्वास से भरपूर होने का अवसर मिलता है। IRFC शेयर की दिशा में बुलिश माहौल में एक नजर डालना निवेशकों के लिए एक आकर्षक विकल्प हो सकता है।

एक्सपर्टों की राय: IRFC शेयर में आगे की क्या संभावनाएं हैं?

शेयर बाजार के अनुभवी जानकारों के मुताबिक, IRFC के शेयर में तिमाही आधार पर आमदनी में कुछ संवेदनशील वृद्धि देखी गई है। नतीजों के पहले, शेयर में बिकवाली की दिशा में चलन देखा गया था, लेकिन अब फिर इसमें उछाल की संभावना है। विशेषज्ञों का मानना है कि छोटे-मध्यम अवधि में, IRFC के शेयर मूल्य ₹180 और ₹200 के स्तर तक पहुंच सकता है।

IRFC के तीसरी तिमाही के नतीजों को लेकर स्टॉकबॉक्स के पार्थ शाह ने कहा कि कंपनी की आमदनी में साल-दर-साल आधार पर वृद्धि देखी गई है, हालांकि तिमाही आधार पर हल्की गिरावट भी हुई है। उनके अनुसार, कंपनी का बकाया ऋण बढ़ गया है, लेकिन सरकार का मुख्य उद्देश्य रेलवे क्षेत्र में विकास को बढ़ावा देना है और इसके लिए कई योजनाएं शुरू की गई हैं।

इससे आने वाले समय में शेयर में तेजी की संभावना है। इसके अलावा, उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष के आखिरी तिमाही के नतीजों के साथ-साथ शेयर में अधिक ध्यान की आवश्यकता है, जिससे निवेशकों को सही निर्णय लेने में मदद मिल सके।

IRFC के दिसंबर तिमाही के नतीजे: एक आँकड़े से देखें वित्तीय स्थिति

Invasset के पार्टनर और फंड मैनेजर अनिरुद्ध गर्ग ने बताया कि IRFC लिमिटेड के दिसंबर तिमाही के नतीजे में वित्तीय प्रदर्शन का स्थिरता देखने को मिला। उनके अनुसार, कंपनी ने ऋण स्तर को बेहतरीन तरीके से नियंत्रित किया है और ऋण इक्विटी अनुपात 8.54 है, जो काफी संतुलित है।

गर्ग ने आगे कहा कि IRFC का प्रति शेयर आय (ईपीएस) भी पिछली तिमाही के ₹1.20 से बढ़कर ₹1.23 हो गई है, जो एक सकारात्मक संकेत है। यह व्यक्तिगत उत्पादकता में वृद्धि को दर्शाता है और निवेशकों को आत्मविश्वास देता है कि कंपनी अपने कार्य को सही दिशा में ले रही है।

इससे साफ होता है कि IRFC लिमिटेड अपने वित्तीय प्रबंधन में मजबूत है और आगे की दिशा में भी संवेदनशील है। निवेशकों के लिए यह एक अच्छा संकेत है कि IRFC कंपनी अपने काम में प्रगति कर रही है और वित्तीय स्थिरता को बनाए रखने के लिए प्रयासरत है।

बिना नुकसान के निवेश: IRFC शेयर की बारीक सलाह

IRFC शेयर की कीमत में वृद्धि के लिए एक विशेषज्ञ सलाह देते हुए, चॉइस ब्रोकिंग के कार्यकारी निदेशक सुमीत बगाड़िया ने ₹180 प्रति शेयर के स्तर पर एक छोटी सी बाधा का उल्लेख किया है। इसे पार करने पर, IRFC शेयर की कीमत ₹200 प्रति शेयर तक पहुंच सकती है।

ऐसे में, IRFC शेयरधारकों को सलाह दी जा रही है कि वे अपने निवेश को होल्ड रखें, लेकिन साथ ही ₹120 प्रति शेयर पर सख्त स्टॉप लॉस बनाए रखें। एक स्टॉप लॉस, जैसे कि ₹120 प्रति शेयर, निवेशकों को अपने निवेश को सुरक्षित बनाए रखने में मदद कर सकता है।

यह उन्हें नुकसान से बचने का एक अच्छा तरीका होता है, खासकर जब बाजार में तेजी-मंदी की अनियमितता होती है। इसके साथ ही, स्टॉप लॉस का उपयोग करके निवेशक अपने निवेश के लिए नियमित निर्णय ले सकते हैं और वे वित्तीय स्थिति को सही दिशा में बनाए रख सकते हैं।

Disclaimer: A1Factor.Com पोस्ट के माध्यम से लोगों में फाइनेंशियल एजुकेशन प्रोवाइड कराता है। म्‍यूचुअल फंड और शेयर मार्केट निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है। हम सब SEBI से पंजीकृत वित्तीय सलाहकार नहीं हैं। आप अपने पैसे को निवेश करने के लिए स्वतंत्र है। कृपया अपनी समझदारी और सूझ बूझ के साथ ही निवेश करें। निवेश करने से पहले पंजीकृत एक्सपर्ट्स की राय जरूर लें।



Source link

Leave a Comment