सरकार ने बदल दिया फैमिली पेंशन से जुड़ा नियम


Pension Rights Update

महिला सरकारी कर्मचारियों के लिए पेंशन संबंधी एक महत्वपूर्ण अपडेट आया है। अब वे अपने पति के बजाय अपने बच्चों को फैमिली पेंशन के लिए नॉमिनेट कर सकती हैं। यह निर्णय उन महिलाओं के लिए बड़ा कदम है, जिन्हें अपने पारिवारिक अधिकारों को चुनने की स्वतंत्रता की जरूरत थी।


Nomination Freedom

DoPPW के इस नए नियम के अनुसार, सरकारी महिला कर्मचारियां अब अपने बच्चों को फैमिली पेंशन के लिए चुन सकती हैं। यह निर्णय खासकर उन स्थितियों में महत्वपूर्ण होगा जहां वैवाहिक कलह या घरेलू हिंसा जैसी परिस्थितियां हों


Beneficiary Change

पहले फैमिली पेंशन का लाभ केवल जीवित जीवनसाथी को मिलता था, लेकिन अब यह अधिकार महिला कर्मचारी के हाथ में होगा। वे अपने बच्चों को इसका लाभार्थी बना सकती हैं

Process and Eligibility

इस प्रक्रिया में महिला कर्मचारी को अपने कार्यालय प्रमुख को लिखित अनुरोध करना होगा। यह अनुरोध उस स्थिति के लिए होगा जब उनकी मृत्यु के बाद उनके बच्चे पेंशन के लाभार्थी बनें।


Implications for Women

यह निर्णय न केवल महिलाओं को सशक्त बनाता है, बल्कि उनके अधिकारों के प्रति समानता और न्याय की दिशा में एक मजबूत कदम है। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महिला अधिकारों के प्रति समानता की नीति को भी दर्शाता है।



Source link

Leave a Comment