SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर! टूटा मुसीबतों का पहाड़, जारी हुआ नया नियम…


स्टेट बैंक ग्राहकों के लिए एक बुरी खबर सामने आ रही है। यदि आप भी भारतीय स्टेट बैंक के कस्टमर है तो आपके लिए यह खबर जान लेना काफी जरूरी है। बजट पेशकश से पहले भारतीय स्टेट बैंक आफ इंडिया के द्वारा अचानक से कुछ नियमों में बदलाव कर दिया गया है। आईए जानते हैं इन नियमों के बारे में पूरी डिटेल…


WhatsApp चैनल ज्वाइन करें


Join Now

SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर

दरअसल स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने अपने एटीएम से कैश निकालना के तरीके को बदल दिया है। साथ ही कैश विड्रॉल के लिमिट में भी कुछ चेंज किया जा रहे। एसबीआई ग्राहकों के ऊपर एक और बड़ी मुसीबत का पहाड़ टूट सकता है। बैंक द्वारा या फैसला धोखाधड़ी से बचने के लिए लिया जा रहा है साथ ही एटीएम कार्ड संबंधी नए नियम को 2 फरवरी से लागू भी किया जा सकता है।

SBI Bank ATM Rule Update

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने एटीएम के पैसे निकालना को लेकर और ट्रांजैक्शन को लेकर भी नया नियम जारी किया है। अब बैंक ग्राहकों को हर ट्रांजैक्शन पूरा करते वक्त ओटीपी शेयर किया जाएगा और उसे ओटीपी को एटीएम पिन के तौर पर डालने के बाद ही आप क्या इसका विड्रोल ले सकते हैं। यह नया नियम धोखाधड़ी को रोकने के लिए बनाया जा रहा है।।

जानें क्या है SBI Bank अपडेट

इसके साथ ही एसबीआई एटीएम धोखाधड़ी के बारे में भी अपने ग्राहकों को जागरुक करते हुए सोशल मीडिया पर कई पोस्ट भी शेयर किया है। 10000 या उससे अधिक की राशि की निकासी या फिर लेनदेन हेतु आपको एक ओटीपी प्रोवाइड किया जाएगा जिसे डालने के बाद ही आपके ट्रांजैक्शन को कंप्लीट किया जा सकता है।

इसके साथ ही एसबीआई एटीएम से कैश निकलते समय भी आपको अपना डेबिट कार्ड और मोबाइल नंबर की जरूरत होगा। एटीएम से कैश विड्रोल के समय आपको ओटीपी दर्ज करना होगा इसके बाद यहां से पैसे की निकासी कर सकते हैं।

Disclaimer: A1Factor.Com पोस्ट के माध्यम से लोगों में फाइनेंशियल एजुकेशन प्रोवाइड कराता है। म्‍यूचुअल फंड और शेयर मार्केट निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है। हम सब SEBI से पंजीकृत वित्तीय सलाहकार नहीं हैं। आप अपने पैसे को निवेश करने के लिए स्वतंत्र है। कृपया अपनी समझदारी और सूझ बूझ के साथ ही निवेश करें। निवेश करने से पहले पंजीकृत एक्सपर्ट्स की राय जरूर लें।



Source link

Leave a Comment